Advertisment

टी 20 विश्व कप 2021 के बाद टॉम मूडी बन सकते हैं भारतीय टीम के कोच : रिपोर्ट्स

कुछ रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि टीम इंडिया के अगले कोच की रेस में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी टॉम मूडी का नाम भी शामिल है।

author-image
Justin Joseph
New Update
Tom Moody. (Photo by Paul Kane/Getty Images)

Tom Moody. (Photo by Paul Kane/Getty Images)

भारतीय टीम के वर्तमान कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल टी20 विश्व कप के साथ ही समाप्त हो रहा है। उनके पद से हटने के बाद कौन भारतीय टीम का कोच होगा, इसकी तलाश जारी है। इसमें अनिल कुंबले और वीवीएस लक्ष्मण जैसे पूर्व क्रिकेटरों का नाम सामने आया है। वहीं अब कुछ रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि टीम इंडिया के अगले कोच की रेस में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी टॉम मूडी का नाम भी शामिल है। टॉम मूडी वर्तमान में सनराइजर्स हैदराबाद के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट हैं।

Advertisment

टीम की किस्मत बदलने के लिए फैसला लिया गया

सनराइजर्स हैदराबाद का आईपीएल 2021 सीजन में अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा और वार्नर को इसका खामियाजा अपनी कप्तानी और टीम से बाहर होकर भुगतना पड़ा। अब कई रिपोर्ट पर भरोसा किया जाये तो वास्तव में डेविड वार्नर को सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान के रूप में बर्खास्त करने के पीछे टीम इंडिया का अगला कोच बनने के मूडी की योजना का एक हिस्सा था। सीजन की शुरुआत में हैदराबाद के कप्तान रहे वार्नर को पहले कुछ मैचों में टीम के खराब प्रदर्शन के बाद बीच में ही बर्खास्त कर दिया गया था।

इतना ही नहीं वार्नर को प्लेइंग इलेवन में भी शामिल नहीं किया गया और यह फैसला हैरान करने वाला था। लेकिन टॉम मूडी और सनराइर्ज के मुख्य कोच ट्रेवर बेलिस ने बार-बार कहा है कि यह निर्णय टीम की किस्मत बदलने के लिए लिया गया था। हालांकि Foxsports.com.au के मुताबिक मूडी ने वार्नर को भारत का अगला मुख्य कोच बनने की संभावनाओं को मजबूत करने के लिए बर्खास्त किया।

Advertisment

अन्य आईपीएल फ्रेंचाइजी भी फैसले से हैरान

ऐसा माना जाता है कि सनराइजर्स हैदराबाद के मालिक बीसीसीआई में प्रभावशाली शख्सियत हैं, जो वार्नर को उनके पिछले 6 मैचों से बाहर करने और युवाओं को मौका देने के फैसले पर व्याख्या कर रहे थे। कई अन्य आईपीएल फ्रेंचाइजी भी इस फैसले से हैरान रहे, जिन्होंने वार्नर से संपर्क किया है। वार्नर को आईपीएल 2021 के यूएई चरण में कुछ मौके मिले, लेकिन 0 और 2 रन के स्कोर के कारण उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। इसके अलावा वार्नर टीम के साथ स्टेडियम भी नहीं जा सके, क्योंकि उन्हें 18 सदस्यीय टीम से बाहर कर दिया गया था।

कोविड -19 प्रोटोकॉल के कारण मैच के दिन 18 खिलाड़ियों को अंदर जाने की अनुमति थी। इस मामले पर बोलते हुए बेलिस ने कहा कि हम फाइनल में जगह नहीं बना सकते थे, इसलिए फैसला किया गया कि युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जाये, ताकि उन्हें अनुभव प्राप्त हो। वार्नर एक अनुभवी खिलाड़ी नहीं थे, जिन्हें हमने होटल में छोड़ दिया।

Cricket News General News India