Advertisment

नई आईपीएल फ्रेंचाइजी सीवीसी कैपिटल को लेकर उठ रहे सवाल पर बीसीसीआई ने माना सब कुछ सही

सीवीसी कैपिटल के संबंध सट्टेबाजी कंपनी से जुड़ने के विवाद पर बीसीसीआई ने माना कि सीवीस कैपिटल फ्रेंचाइजी का मालिक होने के लिए फिट और उचित है।

author-image
Justin Joseph
New Update
IPL ( Image Credit: Twitter)

IPL ( Image Credit: Twitter)

बीसीसीआई ने 25 अक्टूबर को आधिकारिक तौर पर दो नई आईपीएल टीमों का ऐलान किया। इसमें आरपीएसजी ग्रुप ने लखनऊ को तो सीवसी कैपिटल ग्रुप ने अहमदाबाद को खरीदा। वहीं अब इसमें से एक फ्रेंचाइजी मालिक सीवीसी कैपिटल के संबंध ब्रिटेन में सट्टेबाजी कंपनी से जुड़ने को लेकर विवाद हो गया। हालांकि अब खबर है कि बीसीसीआई ने माना है कि सीवीसी कैपिटल अहमदाबाद फ्रेंचाइजी का मालिक होने के लिए फिट और उचित है।

Advertisment

ललित मोदी ने बीसीसीआई से किये सवाल

इससे पहले ललित मोदी ने दो नई आईपीएल टीमों के ऐलान के बाद ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि सट्टेबाजी कंपनियां आईपीएल टीम खरीद सकती हैं, यह निश्चित तौर पर नया नियम होगा, क्योंकि एक क्वालीफाई बिडर सट्टेबाजी कंपनी का मालिक है। क्या बीसीसीआई ने अपना होमवर्क नहीं किया? इस तरह के मामले में एंटी करप्शन क्या कर रहा है? इसके बाद से यह पूरा विवाद शुरू हुआ और जाहिर तौर पर यह सामने आया कि सीवीसी कैपिटल के एक सट्टेबाजी कंपनी के साथ संबंध थे।

बीसीसीआई ने कहा सब कुछ सही

Advertisment

वहीं अब पत्रकार के श्रीनिवास ने ट्वीट कर जानकारी दी कि मुद्दों को सुलझा लिया गया है। बीसीसीआई और सीवीसी कैपिटल के वकीलों ने इस पर चर्चा के लिए बुधवार को दुबई में मुलाकात की। इसके बाद बीसीसीई ने उन्हें आईपीएल टीम के मालिक होने के लिए सब कुछ सही उचित करार दिया है। सीवीसी ने विवाद को खत्म करने के लिए अहमदाबाद फ्रैंचाइजी का मालिक होने के लिए भारतीय बोर्ड के साथ एक आशय पत्र (एलओआई) पर भी हस्ताक्षर किया है। इससे पहले पता चला था कि बीसीसीआई और सीवीसी कैपिटल ने इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए मुलाकात की थी और सीवीसी को यह विश्वास था कि फ्रेंचाइजी टीम का मालिक बना रहेगा।

एटीके मोहन बागान के निदेशक पद से हटे गांगुली

इस बीच बीसीसीई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने हितों के टकराव से बचने के लिए एटीके मोहन बागान के निदेशक के रूप में इस्तीफा दे दिया है। लखनऊ फ्रेंचाइजी के मालिक आईएसएल टीम एटीके मोहन बागान के भी मालिक है, जिसके अब तक सौरव गांगुली निदेशक थे। इसलिए किसी भी तरह के हितों का टकराव से बचने के लिए सौरव गांगुली ने इस पद से इस्तीफा दे दिया। अब आईपीएल के अगले सत्र से 10 टीमों के खेलने की तैयारी है।

Cricket News General News