in

DRS Controversy: कोहली के रवैये पर फूटा गौतम गंभीर का गुस्सा, बोले- युवाओं के आइडियल लायक नहीं हो सकते

दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए अभी 111 रन की जरूरत है।

Virat Kohli. (Photo Source: Twitter)
Virat Kohli. (Photo Source: Twitter)

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच केपटाउन में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन कुछ ऐसा हुआ कि क्रिकेट जगत में विराट कोहली की आलोचना की गई। दरअसल तीसरे दिन भारत से मिले 212 रन के लक्ष्य का पीछा करने के दौरान दक्षिण अफ्रीकी पारी के 21वें ओवर में डीन एल्गर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट करार दिए गए। हालांकि डीन एल्गर ने डीआरएस का इस्तेमाल किया, जिसके बाद फैसला थर्ड अंपायर के पास गया।

वहां रिप्ले में दिख रहा था कि गेंद एल्गर की घुटने की नीचे लगने के बावजूद स्टंप के ऊपर से जा रही थी। इसके बाद थर्ड अंपायर ने डीन एल्गर को नॉटआउट करार दिया। ये फैसला विराट कोहली और भारतीय टीम को अच्छा नहीं लगा, जिसके बाद कोहली स्टंप माइक के पास गए और अपनी निराशा व्यक्त की। कोहली के रवैये पर पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने आलोचना की है। उन्होंने कहा कि डीन एल्गर के डीआरएस कॉल पर विराट कोहली का गुस्सा अस्वीकार्य था।

जानिए गौतम गंभीर ने क्या कहा

इस पूरे मामले में पर गौतम गंभीर ने कहा कि कि कोहली को कैमरे पर रहते हुए अपनी नाराजगी नहीं जाहिर करनी चाहिए थी। उन्होंने कहा, ‘कोहली बहुत अपरिपक्व हैं। किसी भारतीय कप्तान के लिए स्टंप्स माइक में ऐसा कहना सबसे बुरा है। ऐसा करने से आप कभी भी युवाओं के आदर्श नहीं होंगे।’

वहीं दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज शॉन पोलॉक ने कहा कि मेजबान टीम द्वारा भारी दबाव में आने के बाद भारत उनकी नसों को पकड़ने में विफल रहा। उन्होंने कहा, ‘भारत विकेट लेने के लिए बेताब था और उसके बाद भावना उमड़ पड़ी। गेंद लाइन में लगी और बाउंस हो गई और एल्गर ने अच्छा डीआरएस कॉल लिया। इस कॉल के साथ यह करीब होने वाला था।’

अफ्रीका को जीत के लिए 111 रन की जरूरत

तीसरे दिन ऋषभ पंत के शतकीय पारी के बावजूद भारतीय टीम सिर्फ 198 रन पर ऑलआउट हो गई। अफ्रीका को जीत के लिए 212 रन का लक्ष्य मिला। जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने दिन का खेल खत्म होने तक 2 विकेट खोकर 101 रन बना लिए हैं और उसे जीत के लिए अभी 111 रन की जरूरत है। कीगन पीटरसन 48 रन बनाकर क्रीज पर टिके हुए हैं।

Perth Scorchers (Image Credit: Twitter)

BBL 2021-22 : मैच-47 प्रिव्यू, अपनी प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए पर्थ स्कार्चर्स से भिड़ेगी एडिलेड स्ट्राइकर्स

Ajinkya Rahane and Cheteshwar Pujara.

सुनील गावस्कर ने पुजारा-रहाणे के भाग्य पर सुना दिया फैसला