in

WI vs IND : आखिरी टी-20 मुकाबले में भारतीय स्पिनर्स के जाल में फंसी पूरी कैरेबियन टीम, 88 रनों से मिली करारी हार

भारतीय टीम ने सीरीज 4-1 से अपने नाम किया।

वेस्टइंडीज और भारत के बीच 5वां टी-20 मुकाबला फ्लोरिडा में खेला गया, जहां मेहमान टीम ने 88 रनों से शानदार जीत दर्ज की। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने श्रेयस अय्यर के 64 रनों की मदद से 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 188 रन बनाए, जिसके जवाब में वेस्टइंडीज की पूरी टीम 15.4 ओवर में 100 रन पर ढेर हो गई। मुकाबला जीतने के साथ भारत ने सीरीज 4-1 से अपने नाम किया। हालांकि भारत पहले ही सीरीज जीत चुका था।

भारतीय स्पिनर्स ने वेस्टइंडीज को समेटा

भारत से मिले 189 रनों के लक्ष्य का पीछा करने के लिए वेस्टइंडीज को मजबूत शुरुआत की जरूरत थी, लेकिन पहले ही ओवर में जेसन होल्डर के रूप में झटका लगा। ओपनिंग करने आए होल्डर बिना खाता खोले ही अक्षर पटेल का शिकार हो गए। इसके बाद अक्षर पटेल ने शामराह ब्रूक्स (13) और डिवोन थॉमस (10) को पवेलियन का रास्ता दिखाया।

33 रन के स्कोर पर वेस्टइंडीज ने अपने शीर्ष 3 विकेट गंवा दिए। एक छोर से कैरेबियन टीम के विकेट नियमित अंतराल पर गिरते रहे, जबकि दूसरे छोर से शिमरोन हेटमायर टीम के लिए संकटमोचक बने रहे और रन बनाते रहे। हालांकि, बढ़ते रन रेट के दबाव में 16वें ओवर में वह 35 गेंदो में 56 रन बनाकर आउट हो गए। उनके आउट होते ही वेस्टइंडीज की टीम 100 रन पर ऑलआउट हो गई।

इस प्रकार भारत ने यह मुकाबला 88 रनों से जीत लिया। पूरे सीरीज में भारत का दबदबा रहा और उसने इसे 4-1 से अपने नाम किया। भारत की ओर से रवि बिश्नोई ने 4 विकेट लिए। जबकि अक्षर पटेल और कुलदीप यादव ने 3-3 विकेट हासिल किए। अक्षर पटेल को प्लेयर ऑफ द मैच, जबकि अर्शदीप सिंह को प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया।

भारत ने बनाए 188 रन

इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। रोहित शर्मा और सूर्यकुमार यादव की गैरमौजूदगी में इशान किशन और श्रेयस अय्यर ने पारी की शुरुआत की। हालांकि, दोनों बल्लेबाज पहले विकेट के लिए सिर्फ 38 रन ही जोड़ सके। पांचवें ओवर में किशन 11 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद श्रेयस अय्यर और दीपक हुड्डा ने शानदार बल्लेबाजी की।

आउट होने से पहले अय्यर ने 40 गेंदों में 8 चौके और 2 छक्के की मदद से 64 रन बनाए। वहीं हुड्डा ने 25 गेंदों में 38 रन बनाए, जिसमें 3 चौके और 2 छक्का शामिल रहा। हार्दिक ने 28 रनों का योगदान दिया। जबकि सैमसन एक बार फिर मिले मौके को भुना नहीं सके और सिर्फ 15 रन बनाए। दिनेश कार्तिक ने 12 और अक्षऱ पटेल ने 9 रन जोड़े।

भारत ने निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 188 रन बनाए। वेस्टइंडीज के लिए ओबेद मैकॉय ने सबसे अधिक 3 विकेट चटकाए।

एमएस धोनी और विराट कोहली की कप्तानी में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को लंबा नहीं खींच सके ये 5 खिलाड़ी

भारतीय महिला क्रिकेट टीम का गोल्ड का सपना टूटा, ऑस्ट्रेलिया से फाइनल में मिली 9 रन से हार