in

जानिए आखिर क्यों ऋषि धवन ने फेस शील्ड पहनकर गेंदबाजी की?

ऋषि धवन ने चेन्नई के खिलाफ मैच में दो विकेट हासिल किए।

Rishi Dhawan. (Photo Source: IPL/BCCI)
Rishi Dhawan. (Photo Source: IPL/BCCI)

इंडियन टी-20 लीग 2022 में सोमवार 25 अप्रैल को पंजाब और चेन्नई के बीच मुकाबला खेला गया, जहां मयंक अग्रवाल की अगुवाई वाली टीम ने रवींद्र जडेजा के नेतृत्व वाली टीम को 11 रनों से हरा दिया। ऋषि धवन ने लंबे समय बाद वापसी की और पंजाब के लिए अपना पहला मैच खेला। उन्होंने 2016 के बाद पहली बार इंडियन टी-20 लीग में मैच खेला।

ऋषि धवन ने 2013 में पदार्पण करने के बाद पिछली बार पंजाब के लिए खेला था। ऑलराउंडर ने गेंद के साथ अच्छा प्रदर्शन किया। हालांकि जब वह गेंदबाजी करने के लिए आए तो फेस शील्ड पहने नजर आए। इसे देखते ही प्रशंसकों के मन में ये जानने की इच्छा होने लगी कि आखिर किस वजह से उन्होंने ये फेस शील्ड पहना हुआ था।

इस वजह से ऋषि धवन ने गेंदबाजी के दौरान पहना फेस शील्ड

दरअसल इंडियन टी-20 लीग 2022 शुरू होने से पहले ऋषि धवन रणजी ट्रॉफी में खेले। जहां दूसरे राउंड के मैचों के दौरान उनके चेहरे पर चोट लग गई थी। उन्हें अस्पताल में ले जाया गया। चोट लगने के बाद ऋषि धवन की नाक की सर्जरी हुई। इसी कारण से वह पंजाब के लिए पहले चार मैचों में उपलब्ध नहीं हुए थे। दोबारा चोट न लगे और इससे बचाव के लिए ऋषि धवन ने गेंदबाजी करते समय फेस शील्ड का इस्तेमाल किया।

ध्यान देने वाली बात है कि उन्होंने अभ्यास के दौरान भी फेस शील्ड का इस्तेमाल किया। चेन्नई के खिलाफ मैच से पहले पंजाब ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें ऋषि धवन ने इंडियन टी-20 लीग के शुरुआती मैचों में नहीं खेलने का कारण बताया।

 

मैच की बात करें तो पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शिखर धवन के शानदार बल्लेबाज की मदद से 4 विकेट पर 187 रन बनाए। शिखर धवन ने 59 गेंदों में 9 चौके और 2 छक्के की मदद से नाबाद 88 रन बनाए। जवाब में चेन्नई की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 176 रन ही बना सकी। पंजाब की ओर से कगिस रबाडा और ऋषि धवन ने दो-दो विकेट लिए। जबकि संदीप शर्मा और अर्शदीप सिंह को 1-1 विकेट मिला।

(Image Source: BCCI/IPL)

Indian T20 League 2022: देखिए चेन्नई बनाम पंजाब मैच के कुछ मजेदार मीम्स

Board of Control for Cricket in India

भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज को लेकर सामने आई बड़ी खबर, श्रृंखला में नहीं होगा बायो-बबल और आइसोलेशन