शेन वार्न ने की ऑस्ट्रेलियाई टीम की कड़ी आलोचना, कहा- स्टीव स्मिथ को टी-20 में नहीं होना चाहिए

इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की करारी हार पर शेन वार्न ने टीम की कड़ी आलोचना की और टीम में स्टीम स्मिथ को शामिल करने पर सवाल उठाये।

author-image
By Justin Joseph
New Update
Shane Warne

Shane Warne (Image Credit: Twitter)

यूएई में हो रहे इंटरनेशनल टी-20 कप में ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड के खिलाफ करारी हार का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया की इस बड़ी हार पर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिेकेटर शेन वार्न ने कड़ी आलोचना की है। उन्होंने टीम के प्लेइंग इलेवन में स्टीव स्मिथ को शामिल करने को लेकर सवाल उठाये हैं। स्टीव स्मिथ खेल के सबसे लंबे फार्मेट में महान बल्लेबाजों में से एक माने जाते हैं। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ नाकाम रहे, उन्होंने पांच गेंदों पर सिर्फ एाक रन बनाया।

स्टीव स्मिथ को टी-20 में नहीं होना चाहिए

शेन वार्न ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की ओर से निराशाजनक चयन। मार्श को बाहर रखा और ग्लेन मैक्सवेल को पावरप्ले में बैटिंग के लिए भेजा। मार्कस स्टोइनिस को बल्लेबाजी के लिए जाना चाहिए था। मैक्सवेल को हमेशा पावरप्ले के बाद बल्लेबाजी करने आना चाहिए। यह ऑस्ट्रेलिया टीम की खराब रणनीति थी। मैं स्मिथ को बल्लेबाजी करते देखना पसंद करता हूं, लेकिन उन्हें टी-20 में नहीं होना चाहिए। उनकी जगह मार्श को होना चाहिए था।

वार्न ने इंग्लैंड टीम की सराहना की

वार्न ने आगे इंग्लैंड टीम की सराहना की और कहा कि वह टी-20 की एक अच्छी टीम है। मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 124 रन बनाये, जवाब में इंग्लैंड ने आठ विकेट से शेष रहते लक्ष्य हासिल कर लिया। शेन वार्न ने पाकिस्तान टीम की भी प्रशंसा की। पाकिस्तान तीन जीत के साथ ग्रुप-2 में टॉप पर है। वहीं इंग्लैंड भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत के बाद ग्रुप-1 में टॉप पर पहुंच गया है।

उन्होंने कहा ऑस्ट्रेलिया इस हार के बाद सीखेगा कि कैसे उसे खेलना है। पाकिस्तान और इंग्लैंड की टीम ने दिखाया कि कैसे टी-20 क्रिकेट खेला जाता है। ऑस्ट्रेलिया को खेलने की अपनी सोच और टीम को बदलने की जरूरत है।

टूर्नामेंट में हर ग्रुप की टॉप दो टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी और इसका फाइनल 14 नवंबर को खेला जायेगा। ऑस्ट्रेलिया को निराशाजनक प्रदर्शन के बावजूद सेमीफाइनल में जगह बनाना है तो उन्हें अभी भी अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत है। ऑस्ट्रेलिया इस समय ग्रुप-1 में तीसरे स्थान पर है, जबकि दक्षिण अफ्रीका दूसरे नंबर पर है।

Latest Stories