in

‘रफ्तार के सौदागर’ उमरान मलिक ने फेंकी इंडियन टी-20 लीग इतिहास की दूसरी सबसे तेज गेंद

इंडियन टी20 लीग 2022 में अब तक मलिक ने 10 मैचों में 15 विकेट चटकाए हैं।

Umran Malik: (Image Source: BCCI/IPL)
Umran Malik: (Image Source: BCCI/IPL)

उमरान मलिक ने इंडियन टी-20 लीग 2022 में शानदार प्रदर्शन किया है। हालांकि उन्हें पिछले दो मैचों में विकेट नहीं मिला है। मौजूदा सीजन में उनकी तेज गेंदबाजी करने की क्षमता ने सभी को प्रभावित किया है। इसके अलावा हैदराबाद के प्रबंधन ने उनका लगातार समर्थन किया है। कई दिग्गजों ने इस युवा गेंदबाजी की प्रशंसा की है।

हैदराबाद के तेज गेंदबाज ने इस संस्करण में अब तक 10 मैचों में 15 विकेट लिए हैं। हालांकि, पिछले दो मैच उनके लिए बहुत अच्छे नहीं रहे हैं। वह काफी महंगे साबित हुए हैं। गुरुवार को दिल्ली के खिलाफ भी मलिक ने चार ओवर में बिना कोई विकेट लिए 52 रन लुटाए। फिर भी वह अपनी तेज गति से गेंदबाजी के लिए चर्चा का विषय बने रहे।

मलिक ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड

केन विलियमसन की अगुवाई वाली टीम और दिल्ली के बीच 2022 संस्करण के 50वें मैच में मलिक ने सीजन की सबसे तेज गेंदबाजी की। उन्होंने 20वें ओवर की चौथी गेंद 157 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से फेंकी, लेकिन विंडीज के बल्लेबाज ने इस पर चौका लगाया। इससे पहले उमरान ने इस सीजन 154 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी। इस प्रकार उन्होंने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया।

लीग इतिहास की दूसरी सबसे तेज गेंद

इसके साथ ही यह इंडियन टी-20 लीग इतिहास में दूसरी सबसे तेज गेंदबाज़ी भी है। इससे पहले शॉन टेट ने 157.71 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की है। इस प्रकार प्रशंसक उमरान के कारनामे से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने ट्विटर पर खूब मीम्स व पोस्ट शेयर किए।

157 किमी प्रति घंटे की रफ्तार गेंद फेंकने के बाद मलिक ने अगली गेंद 155 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से की, लेकिन पॉवेल ने इस पर भी चौका लगाया। इस प्रकार ने दिल्ली 20 ओवर में 3 विकेट पर 207 रन का स्कोर बनाया। इसके जवाब में ऋषभ पंत की अगुवाई वाली टीम इस टोटल का बचाव करने में सफल रही और हैदराबाद को 21 रन से मैच हराया। यह 2022 सीजन में दिल्ली की पांचवीं जीत है।

Asian Games

कोरोना वायरस ने फिर बरपाया कहर, एशियन गेम्स 2022 हुआ स्थगित

Rovman Powell. (Photo Source: IPL/BCCI)

रोवमन पॉवेल ने किया खुलासा, आखिर क्यों अंतिम ओवर में डेविड वॉर्नर को नहीं दी स्ट्राइक